श्री महावीर साधना के पहले दिन के अनुभव :
————————————————-
(4-5-2020)
1.

Jj apne to 1.3 hr ki movie dikha di

(श्वास द्वारा 5 कल्याणक का ध्यान)

– Delhi

————-
2.

आज़ का जाप जिंदगी भर याद रहेगा। ?

आज महावीर साधना के समय पहली माला के दौरान हाथी, माला, समुद्र और ध्वजा के दर्शन हुए।

दुसरी माला के दौरान अत्यंत प्रकाशमान पर्वत दिखाई दिया और नगारों की गुंज सुनाई दी। पुर्ण शरीर रोमांचित होता रहा।

मेरे से रहा नहीं गया और खड़े होकर नृत्य भी किया।

तिसरी माला के समय प्रभू दीक्षा लेकर जब एक अत्यंत घने जंगल से विहार कर रहे थे, उनके आगे आगे अपने आप रास्ता बनता गया और फुलों की पंखुड़ियां बिछती गई दिखाई दीं।

चौथी माला के समय सिर पर चक्र घूमता महसूस हुआ।

पांचवीं माला के समय आंखों से अश्रु निकले। थोड़ी देर के लिए सब मानो थम सा गया, जाप भी। शुन्यता महसूस हुई।

आज निरंजन की ज्योति भी ऊंची उठती रही।

– पुणे

*****
3

एक प्रश्न है शरीर मे पहली माला से ही कंपन होना चालू होगया था पांच माला तक बहुत बढ़ गया पर ये कम्पन क्यो होता है जैसे ब्राइबेशन मशीन में घूम कर आये हो ये क्यो होता है ????

(निवारण :शरीर power को झेल नहीं पा रहा है, कुछ समय बाद कंपन बंद हो जाएंगे).
– रतलाम

******
4

aaj ki mala mein bhut hi sukhad anubhuti hui eisa laga jaise mein apne aap ko bhagwan ke nikat hi paya.
ye sab aapke hi dwara purna hua iskeliye mere pass koi shabd nahi hai.phele do jaap bhi meine kiye hai usme bhi bhut hi achha laga .anubhav ko vyakt karne ke shabd hi nahi mil rahe ????

*******

5

सर आपके आशीर्वाद से आज की साधना शांति से पूरी हुई दूसरी माला में किसी मंदिर का शिखर दिखा और पाँचवी माला में एक ब्लैक कलर की मूर्ति के दर्शन हुए
चौथी माला में हाथ में बहुत ही दर्द हुआ पर आपके आशीर्वाद से माला पूर्ण कर सका
– मुंबई

? महावीर मेरा पंथ ?
Jainmantras.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − five =