श्री महावीर साधना

श्री महावीर साधना !

4-5-2020 से 8-5-2020

5 माला रोज सवेरे 5 बजे करना
(5 – 5:15 बजे तक बैठ जाना है
उसके बाद एक मिनट की भी देरी नहीं)

धर्म की 5 पुस्तकें सामने रखना.
(एक के ऊपर एक रखना )

3.

(1) दिन भर में 5 “प्रकार” की वस्तुएं ही खाना
(2) कन्द मूल त्याग
(3) रात्रि भोजन त्याग
(4) ब्रह्मचर्य का पालन

(सादे पानी की गिनती वस्तु में नहीं है)

अन्य बातेँ :

4

माला फ़ेरने से पहले श्वास का अभ्यास करना

पहली माला :

5 बार श्वास लेते समय : प्रभु का गर्भ में आने का चिंतन

दूसरी माला :

5 बार श्वास लेते समय : प्रभु के जन्म होने का चिंतन

तीसरी माला :

5 बार श्वास लेते समय : प्रभु की दीक्षा होने का चिंतन

चौथी माला :

5 बार श्वास लेते समय : प्रभु के केवल ज्ञान का चिंतन

पांचवी माला :

5 बार श्वास लेते समय : प्रभु के निर्वाण और मोक्ष का चिंतन

फल :

सारे पापों का नाश भी होगा.

विधि कर्त्ता :

महावीर मेरा पंथ
Jainmantras.com

More Stories
भगवान महावीर की अंतिम देशना-1
error: Content is protected !!